दैनिक प्रार्थना

हमारे मन में सबके प्रति प्रेम, सहानुभूति, मित्रता और शांतिपूर्वक साथ रहने का भाव हो


दैनिक प्रार्थना

है आद्य्शक्ति, जगत्जन्नी, कल्याणकारिणी, विघ्न्हारिणी माँ,
सब पर कृपा करो, दया करो, कुशल-मंगल करो,
सब सुखी हों, स्वस्थ हों, सानंद हों, दीर्घायु हों,
सबके मन में संतोष हो, परोपकार की भावना हो,
आपके चरणों में सब की भक्ति बनी रहे,
सबके मन में एक दूसरे के प्रति प्रेम भाव हो,
सहानुभूति की भावना हो, आदर की भावना हो,
मिल-जुल कर शान्ति पूर्वक एक साथ रहने की भावना हो,
माँ सबके मन में निवास करो.

Thursday 25 December 2008

क्रिसमस की वधाई
















प्रेम करो सबसे

4 comments:

Shastri said...

प्रिय सुरेश जी,

ईश्वर से मेरी प्रार्थना है कि सन 2009 आपके
जीवन का सबसे अच्छा वर्ष हो तथा आपको पारिवारिक,
सामाजिक, एवं पेशाई समृद्धि मिले!

सस्नेह -- शास्त्री

मोहन वशिष्‍ठ said...

आप सभी को क्रिसमस की शुभकामनाएं

COMMON MAN said...

main bhi aapki sadechha me shamil hoon

Pramod said...

A very happy new year to all.