दैनिक प्रार्थना

हमारे मन में सबके प्रति प्रेम, सहानुभूति, मित्रता और शांतिपूर्वक साथ रहने का भाव हो


दैनिक प्रार्थना

है आद्य्शक्ति, जगत्जन्नी, कल्याणकारिणी, विघ्न्हारिणी माँ,
सब पर कृपा करो, दया करो, कुशल-मंगल करो,
सब सुखी हों, स्वस्थ हों, सानंद हों, दीर्घायु हों,
सबके मन में संतोष हो, परोपकार की भावना हो,
आपके चरणों में सब की भक्ति बनी रहे,
सबके मन में एक दूसरे के प्रति प्रेम भाव हो,
सहानुभूति की भावना हो, आदर की भावना हो,
मिल-जुल कर शान्ति पूर्वक एक साथ रहने की भावना हो,
माँ सबके मन में निवास करो.

Saturday 2 February 2008

अरुणाचल का विकास

अख़बार मैं ख़बर आई,
प्रधानमंत्री का अरुणाचल दौरा,
दौरे मैं घोषड़ा अनुदान की,
आठ हजार करोड़ रुपये,
अरुणाचल के विकास के लिए,
देगी केन्द्र सरकार.

पर क्या सरकार ने गणित बिठाया है?
राहुल ने कहा रुपया पाँच पैसे का है,
क्या इस पर विचार फ़रमाया है?
क्या पाँच पैसे मैं हो पायेगा विकास?
या हर बार की तरह,
विकास होगा कुछ और लोगो का,
रह जाएगा प्रदेश अविकसित.

No comments: