दैनिक प्रार्थना

हमारे मन में सबके प्रति प्रेम, सहानुभूति, मित्रता और शांतिपूर्वक साथ रहने का भाव हो


दैनिक प्रार्थना

है आद्य्शक्ति, जगत्जन्नी, कल्याणकारिणी, विघ्न्हारिणी माँ,
सब पर कृपा करो, दया करो, कुशल-मंगल करो,
सब सुखी हों, स्वस्थ हों, सानंद हों, दीर्घायु हों,
सबके मन में संतोष हो, परोपकार की भावना हो,
आपके चरणों में सब की भक्ति बनी रहे,
सबके मन में एक दूसरे के प्रति प्रेम भाव हो,
सहानुभूति की भावना हो, आदर की भावना हो,
मिल-जुल कर शान्ति पूर्वक एक साथ रहने की भावना हो,
माँ सबके मन में निवास करो.

Sunday 3 August 2008

विश्व मित्रता दिवस पर सबको शुभकामनाएं

अपने दुश्मन को हजार मौके दो तुम्हारा दोस्त बनने के लिए, पर अपने मित्र को एक भी मौका मत दो तुम्हारा दुश्मन बनने के लिए.

F - Few
R - Relations
I - In
E - Earth
N - Never
D – Die

उन में से एक दोस्ती है.

1 comment:

महेंद्र मिश्रा said...

आपको भी मित्र दिवस पर ढेरो शुभकामनाये .