दैनिक प्रार्थना

हमारे मन में सबके प्रति प्रेम, सहानुभूति, मित्रता और शांतिपूर्वक साथ रहने का भाव हो


दैनिक प्रार्थना

है आद्य्शक्ति, जगत्जन्नी, कल्याणकारिणी, विघ्न्हारिणी माँ,
सब पर कृपा करो, दया करो, कुशल-मंगल करो,
सब सुखी हों, स्वस्थ हों, सानंद हों, दीर्घायु हों,
सबके मन में संतोष हो, परोपकार की भावना हो,
आपके चरणों में सब की भक्ति बनी रहे,
सबके मन में एक दूसरे के प्रति प्रेम भाव हो,
सहानुभूति की भावना हो, आदर की भावना हो,
मिल-जुल कर शान्ति पूर्वक एक साथ रहने की भावना हो,
माँ सबके मन में निवास करो.

Monday 2 June 2008

यह बेबकूफी किस ने की ???

"चलिए आपका जहाज खड़ा है, आपको वापस भेज रहे हैं", यह शब्द कहे भारत सरकार के अधिकारियों ने अंसार बर्नी से दिल्ली एअरपोर्ट पर. बर्नी दिल्ली में हो रही आतंकवाद विरोधी गोष्ठी में भाग लेने आए थे. उन को दिल्ली अन्दर नहीं आने दिया गया और दुबई जाने वाले एक जहाज में बिठा दिया गया. सब जानते हैं कि बर्नी पाकिस्तान की सरकार में मानव अधिकार मंत्री रहे हैं. अपने अथक प्रयासों से बर्नी ने ३५ वर्षों से पाकिस्तान की जेल में बंद एक भारतीय नागरिक कश्मीर सिंह को रिहाई दिलाई. आज कश्मीर सिंह अपने देश भारत में अपने परिवार के साथ सुख से जीवन बिता रहा है. अब बर्नी सरबजीत की रिहाई के लिए प्रयास कर रहे हैं. उन का यह भी प्रयास है की भारत और पाकिस्तान की जेलों में जो भी पाकिस्तानी और भारतीय कैद हैं उन्हें रिहा कर दिया जाए.

सब जानते हैं पर भारत का ग्रह मंत्री यह नहीं जानता. बर्नी का स्वागत करने की बजाय उन्हें अपमानित कर के वापस भेज दिया गया. कुछ दिन पहले इसी ग्रह मंत्री ने अफ़ज़ल को पाकिस्तानी नागरिक कह कर उसकी तुलना सरबजीत से की थी. पता नहीं यह व्यक्ति सरबजीत का केस ख़राब करने पर क्यों तुला हुआ है. मेरी पिछली पोस्ट पढ़ें:

इस मंत्री को दरवाजा दिखाओ

बात जब बिगड़ गई तो सरकार ने माफ़ी मांग ली. जांच बिठा दी. संबंधित विभाग और अधिकारी एक दूसरे पर दोष लगाने लगे. बर्नी ने भारत सरकार से टिकट की कीमत और इस अपमान का हर्जाना माँगा है. वह संयुक्त राष्ट्र में शिकायत करने की बात भी कह रहे हैं.

1 comment:

अरुण said...

देखिये हम यहा बस ये बताने आये है, की इसमे हमारा कोई हाथ नही है.हमने तो कई बार ग्रह मंत्री को आगरा भेजने की अपील की थी पर सोनिया जी चाहती थी की बाकी सारे मंत्री भी बस इसी प्रकार के मिल जाये.तलाश जारी है एक अदद प्रधानमंत्री से लेकर सारे मंत्रियो तक